प्रवीण प्रवाह

प्रवीण प्रवाह

* नाम - प्रवीण चन्द्र प्रधान, साहित्यिक नाम - प्रवीण 'प्रवाह' * जन्म - 25 -01 -1962 * वर्तमान पता - ग्राम नयापारा खुर्द (पिथौरा) जिला महासमुंद, छत्तीसगढ़ । पिन 493551 * सम्बद्ध संस्था - विगत 30 वर्षों से छत्तीसगढ़ में संचालित साहित्यिक संस्था‌ 'श्रृंखला साहित्य मंच पिथौरा' के संस्थापक अध्यक्ष एवं वर्तमान अध्यक्ष के रूप में विगत 30 वर्षों से निरंतर साहित्य सेवा में समर्पित। * प्रकाशन - राष्ट्रीय स्तर की पत्रिका हंस , कादम्बिनी , गीतकार , सरिता , एवं मधुमति, एवं दिव्य छत्तीसगढ़ ,नई दुनियाँ , नवभारत, देशबंधु, दैनिक भास्कर, चैनल इण्डिया आदि देश एवं प्रदेश के अनेक प्रतिष्ठित पत्र पत्रिकाओं में रचनाओं का प्रकाशन । * कविता संग्रह - सहयोगी प्रकाशन श्रृंखला - 1,श्रृंखला - 2, श्रृंखला - 3, एवं श्रृंखला - 4, * सम्पादन - अनेक शासकीय पत्रिकाओं में एवं छत्तीसगढ़ के अनेक प्रतिष्ठित रचनाकारों के रचना संग्रहों का सम्पादन । * प्रसारण :- आकाशवाणी रायपुर एवम् रायपुर दूरदर्शन में कविता पाठ एवम् प्रसारण। * पुरुस्कार एवं सम्मान :- समाज कल्याण विभाग छत्तीसगढ द्वारा पुरस्कृत एवं सम्मानित। - छत्तीसगढ़ हिन्दी साहित्य सम्मेलन द्वारा छत्तीसगढ़ के पांच सर्वश्रेष्ठ गीतकारों मेंं चयनित एवं सम्मानित । - दूरदर्शन भोपाल के 'भवदीय' कार्यक्रम में पुरस्कृत। - उडिसा में भुवनेश्वर (तेलंगापेंठ) में 'ज्ञान संस्कृति सम्मान' से सम्मानित। - जगन्नाथ पूरी ओड़सा में‌ अंतर्राष्ट्रीय पोयट्री फेस्टीवल 2019 में विश्व से आमंत्रित सैकड़ों साहित्यकारों में दस विशिष्ट साहित्यकारों में चयनित एवं सम्मानित । - इनके अलावा प्रदेश एवं आंचलिक स्तर पर अनेक सम्मानों से सम्मानित। * गीतकार के रूप में स्थापित :- हिन्दी ग़ज़लों एवं गीतों के रचनाकार के रूप में राष्ट्रीय स्तर पर सुप्रसिद्ध ।देश के अनेक नगरों में कवि सम्मेलनों के मंचो में सम्मान के साथ आमंत्रित कवि । देश के अनेक प्रमुख गायकों द्वारा प्रवीण 'प्रवाह' गीत एवं ग़ज़लों का गायन किया जाता है । भारत के मशहूर सूफी गायक कैलाश खेर एवं छत्तीसगढ़ के सर्व सम्मानित सूफी गायक मदन चौहान,लोकप्रिय छत्तीसगढ़ी गायक सुनील सोनी, गजल एवं भजन गायक पं. विवेक शर्मा द्वारा प्रवीण 'प्रवाह' के गीतों का राष्ट्रीय स्तर के मंचों , फिल्मों, आकाशवाणी एवं दूरदर्शन में गाया जाता है । * फिल्मों में उपलब्धि - प्रवीण 'प्रवाह' छत्तीसगढ़ में निर्मित बहुचर्चित फिल्म 'भूलन द मेज' के टाइटल सांग (शीर्षक गीत) के गीतकार हैं। उल्लेखनीय है कि इस फिल्म को इटली एवं केलिफोर्निया आदि विश्व के विभिन्न स्थानों में पांच अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार एवं अनेक राष्ट्रीय स्तर के पुरस्कार मिल चुके हैं। * उड़िया भाषा में योगदान:-उड़िया गीतकार के रूप में स्थापित कवि प्रवीण 'प्रवाह' के गीतों को उडिसा के प्रसिद्ध गायक रवीन्द्र महापात्र,अंजलि मिश्र,‌ श्रीचरण महन्ती, एवं पंकज जाल आदि सुप्रसिद्ध गायक अपने स्वर में गा चुके हैं ।उडिसा भुवनेश्वर (तेलंगापेंठ ) में छत्तीसगढ़ में ‌रहकर उड़िया भाषा की सेवा करने के लिए प्रवीण 'प्रवाह ' को 'ज्ञान संस्कृति सम्मान' से सम्मानित किया गया है उड़िया भाषा के सुपरिचित चैनल 'प्रार्थना' के लिए भी प्रवीण 'प्रवाह' के गीत सलेक्ट हो चुके हैं।उड़ीसा के मशहूर संगीतकार रंजन मिश्र ने प्रवीण 'प्रवाह' के गीतों एवं ग़ज़लों को अपना कम्पोजिशन दिया है। लोक भाषा छत्तीसगढ़ी में भी सुप्परिचित गीतकार एवं साहित्यकार के रूप में‌ प्रतिष्ठित * प्रवीण 'प्रवाह' साहित्य के अलावा चित्रकला ( फाइन आर्ट एवं मॅाडर्न ऑर्ट ) के क्षेत्र में राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त चित्रकार भी हैं । *कविता एवं गीत के अलावा एक स्वतन्त्र लेखक के रूप में‌ सुपरिचित

रचनाएँ