परमाणु सिंह

परमाणु सिंह

परमजीत सिंह उर्फ़ परमाणु सिंह रांची के एक प्राइवेट स्कूल में कार्यरत है ...फेसबुक पे छोटी छोटी कहानियां पोस्ट करते है अपनी व्यस्त जिंदगी से थोड़ा समय चुराकर I लिखना और पढना इनका पसंदीदा शगल I अपने लेखन का श्रेय ये SMP(प्रसिद्ध उपन्यासकार श्री सुरेन्द्र मोहन पाठक) को देते है जिनके नोवेल्स को कमसिन उम्र से पढ़ के ही दीवाने हो गए I 49 वर्ष के है और पहली बार लेखन के क्षेत्र में हाथ आजमा रहे है I निकट भविष्य में दो नोवेल्स प्रकाशित करवाने का इरादा है जिसपे आजकल ये कलम चला रहे है I

रचनाएँ

नए पोस्ट की सूचना के लिए 

नए पोस्ट की सूचना के लिए 

Powered by सहज तकनीक
© 2020 साहित्य विमर्श