हम देखेंगे

(मशहूर पाकिस्तानी ग़ज़ल गायिका इक़बाल बानो का पिछले दिनों देहांत हो गया।याह्या खाँ के शासन के विरोध में उनके द्वारा गायी गयी यह नज़्म फैज़ ने लिखी थी।)लाज़िम है कि हम भी देखेंगेहम देखेंगे ……. वो दिन कि जिसका वादा हैजो लौह-ए-अजल में लिखा हैहम देखेंगे ……. जब जुल्म ए सितम के कोह-ए-गरांरुई की तरह […]

आगे पढ़ें